वॉटर बीयर: दुनिया का अनोखा ऐसा जीव, जो खौलते पानी में भी रहता है जिंदा

वॉटर बीयर यानी टार्डिग्रेड्स को धरती का सबसे कठोर जीव कहा जाता है क्योंकि,  इसे आप चाहे खौलते पानी में डाल दीजिए, या फिर अंतरिक्ष में फेंक दीजिए, ये तब भी जिंदा रह जाएंगे।

जानकारी के मुताबिक, साल 2007 में वैज्ञानिकों ने हजारों टार्डिग्रेड्स को सैटेलाइट में डालकर स्पेस में भेज दिया। लेकिन, जब ये स्पेसक्राफ्ट धरती पर लौटा, तो सब देख के हैरान रह गए, कि टार्डिग्रेड्स जीवित थे, और यहाँ तक कि मादा टार्डिग्रेड ने अंडे भी दे रखे थे।

तापमान और रेडिएशन सहने की भी क्षमता

आमतौर पर जहां इंसान 35 से 40 डिग्री के तापमान में ही परेशान हो जाता है, वहीं ये जीव 300 डिग्री फारेनहाइट तक तापमान को सहन कर सकता है, इसलिए टार्डिग्रेड को धरती का सबसे मजबूत जीव माना जा रहा है|

वैज्ञानिकों के अनुसार, इस जीव के अंदर ‘पैरामैक्रोबियोटस’ नामक जीन पाया जाता है, जो हानिकारक पराबैंगनी विकिरण को अवशोषित कर उसे हानिरहित नीली रोशनी के रूप में वापस बाहर निकालता है। वहीं सामान्य जीव इन हानिकारक किरणों में केवल 15 मिनट तक ही जिंदा रह सकते हैं।

शोधकर्ताओं के मुताबिक, इस जीव के ‘पैरामैक्रोबियोटस’ को निकालकर अन्य जीवों में ट्रांसफर कर दिया जाए, तो ऐसा करने से अन्य जीव भी खतरनाक रेडिएशन के बीच जीवित रह सकते हैं।

हालांकि, बाकी अन्य देशों के एक्सपर्ट अभी फिलहाल इस स्टडी को अधूरा मान रहे हैं। वहीं इस पर भी अलग-अलग देशों के वैज्ञानिकों के इस अध्ययन को लेकर अलग-अलग मत हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *