वागभटानंद पार्क: भारत का यूरोपियन गांव जहां घूमने का है अलग आनंद, तस्वीरें वायरल

हाल ही में केरल में वागभटानंद पार्क बनाया गया है, जहां सिर्फ लोग पैदल ही चल सकते हैं, और इस पर गाड़ियों के चलने की मनाही है|

ये आधुनिक निर्माण का बेहतरीन नमूना है, और यहां आकर ऐसा लगता है, कि हम कहीं यूरोपीय देश में आ गए हैं|

केरल के कोझिकोड जिले में पार्क

केरल के पर्यटन मंत्री कडकमपल्ली सुरेंद्रन ने राज्य के कोझिकोड जिले के वडाकरा के पास काराकड गांव में बनाए गए इस पार्क का उद्घाटन किया, जिसके बाद सोशल मीडिया पर इसकी तस्वीरें वायरल होने लगी, और उसकी तुलना यूरोपीय सड़कों से की जाने लगी|

बता दें, कि इस पार्क में पक्की सड़कें, बेहतरीन यूरोपीय डिजाइन की लाइट्स, आधुनिक इमारतें, ओपन स्टेज, ओपन जिम, बैडमिंटन कोर्ट और चिल्ड्रन पार्क बनाया गया है|

पर्यटन मंत्री कडकमपल्ली सुरेंद्रन का कहना है, कि इस पार्क से इस गांव की तस्वीर बदल जाएगी|

इस जगह पर पहले से ही पार्क था, लेकिन उसकी हालत बहुत खराब थी| जिसके बाद प्रशासन और स्थानीय लोगों ने नया पार्क बनाने की योजना बनाई|

स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता के नाम पर  पार्क का नाम

गौरतलब है कि इस पार्क का नाम स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता वागभटानंद गुरू के नाम पर रखा गया है|

तकरीबन 2.70 करोड़ रुपए की लागत में बने इस पार्क को बनाने में उरालुंगल लेबर कॉन्ट्रैक्टर्स कॉपरेटिव सोसाइटी ने मदद की है| बता दें, इस सोसाइटी की स्थापना वागभटानंद गुरु ने ही की थी|

अब सोशल मीडिया पर इस पार्क की तस्वीरें वायरल होने के बाद लोग इसे देखने के लिए उत्साहित हो रहे हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *