झारखंड का अनोखा मंदिर जहां मांगी जाती हैं बेटी पैदा होने की मन्नत

झारखंड का अनोखा मंदिर: आज के समय में संतान के रूप में बेटी हो या बेटा दोनों एक-समान हैं। लेकिन फिर भी कुछ लोगों के मन में एक चाहत होती हैं, जिसके चलते भगवान् से वे प्रार्थना करते हैं।

लेकिन क्या आप जानते हैं, कि देश में एक ऐसा मंदिर भी हैं जहां बेटी पैदा होने के लिए अरदास की जाती हैं।

यह बिल्कुल सत्य है दरअसल, झारखंड के बोकारो जिले में स्थित चास ब्लॉक के चाकुलिया गांव में 170 साल पुराना दुर्गा मंदिर स्थापित है, जहां सैकड़ों लोग आकर बेटी पैदा होने की मन्नत मांगते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें, कि हर साल दुर्गा पूजा की शुरुआत में यहाँ घटस्थापना होती है, और इसके अलावा इस मंदिर में एक 150 साल पुराने तांबे के बर्तन की पूजा की जाती है।

नवरात्र में काफ़ी बढ़ जाती है भीड़ 

यहाँ के लोकल लोगों का कहना है, कि, ‘ वैसे तो पूरे साल लोग मंदिर आते हों, लेकिन नवरात्र में यहां भीड़ बहुत अधिक बढ़ जाती है|

दरअसल, बेटी की कामना में यहां सैकड़ों लोग सिद्धिदात्री दुर्गा की एक भव्य मूर्ति से प्रार्थना करने के लिए हाजिरी लगाते हैं|

वहीं अगर इसी से जुडी लोककथाओं को माने तो, कालीचरण दुबे नाम के एक गाँव के व्यक्ति ने पहली बार यहां क़रीब 150 साल पहले एक बेटी के लिए प्रार्थना की थी और उसकी इच्छा पूरी हुई थी।

जैसे ही इस बारे में इलाके के लोगों को मालूम हुआ, धीरे धीरे लोग यहाँ आने लगे। उसके बाद सभी कि मुरादें पूरी होने लगी और यह खबर देखते ही देखते हर जगह फ़ैल गई।

एक गांववाले मनोज का कहना है, ‘हर साल कई जोड़े बेटी के लिए मन्नत लेकर यहां आते हैं।

इनमें से अधिकतर लोगों की मुराद पूरी भी हो चुकी होती है, और सभी लोग यहां भक्ति और समर्पण के साथ माँ दुर्गा की पूजा करते हैं।’ वाकई में झारखंड का अनोखा मंदिर अपने आप में गजब है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *