सोने के उस्तरे से शेविंग, सैलून के बाहर लगी रहती है लोगों की लम्बी लाइन

4 लाख का उस्तरा:  हम आपको पुणे के दो युवकों की कहानी बताने वाले हैं, दरअसल, पुणे से सटे देहूगांव में लॉकडाउन में कई महीने तक दुकानें बंद रहने की वजह से अविनाश और विक्की के सैलून पर भी ताला लटका रहा|

जब अनलॉक के बाद सैलून खुले तो सही लेकिन, कस्टमर्स का टोटा बना रहा| लेकिन यह दोनों निराश नहीं हुए बल्कि  इन्होंने ऐसी ट्रिक निकली कि अब इनकी दुकान पर ग्राहकों की लाइन लगी रहती है|

सोने का उस्तरा (रेजर)

बता दें, कि ये अब सोने के उस्तरे (रेजर) से लोगों की शेविंग करते हैं| अविनाश के मुताबिक, “कोरोना की वजह से कारोबार पर बड़ा संकट आया हुआ था, और इस वजह से  यह पूरी तरह चौपट हो गया था|

इसके बाद अनलॉक होने के बावजूद लोग कम आने लगे,  फिर हमने सोचा कि सैलून में ऐसी खासियत हो जो और सैलून से इसे अलग करे और कस्टमर्स वहां आना पसंद करें|  

बता दें, कि पुणे के लोगों को सोने से बहुत लगाव है| इसके बाद फिर हमे एक आइडिया आया, कि क्यों न सोने का उस्तरा (रेजर) बनवाया जाए ,और उससे सैलून में कस्टमर्स की शेविंग की जाए|

8 तोले सोने का रेजर

जानकारी के मुताबिक, अविनाश और विक्की ने चार लाख रुपए में 8 तोले सोने का रेजर बनवाया| अब उनका यह तरीका रंग लाया है और पिछले दो महीने में उनके कस्टमर्स की संख्या काफी बढ़ गई है|  

वहीं अब लोगों का भी कहना है, कि सोने के उस्तरे का चेहरे पर स्पर्श अलग ही एहसास कराता है|

अब रेट की बात करें, तो सोने के उस्तरे से शेविंग कराने पर यहां कस्टमर को 100 रुपए का भुगतान करना होता है|

यही नहीं अविनाश और विक्की ने उस्तरे की सुरक्षा हेतु सैलून में खास लॉकर का भी इंतजाम किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *