21 सितंबर से खुलने जा रहे स्कूल और कॉलेजों के लिए बेहद ज़रूरी हैं यह 5 पॉइंट्स

देश में संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों के बीच केंद्र सरकार स्कूल खोलने का प्लान बना चुकी है. लगभग 5 महीनो के बाद 21 सितंबर से स्कूल-कॉलेज फिर खुलने जा रहे हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्कूलों, कॉलेजों के साथ-साथ उच्च शिक्षा संस्थानों को 21 सितंबर से फिर से खोलने की अनुमति दे दी है. लेकिन अब स्कूल कॉलेजों में इस साल का सत्र पिछले सालों से एकदम अलग होगा

नए नियम के अनुसार सभी क्लास को तत्काल परिसर में नहीं बुलाया जाएगा. केवल 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्रों को स्कूल जाने का विकल्प दिया गया है, वैसे उनके पास ऑफलाइन कक्षाओं में पढ़ने का भी ऑप्शन रहेगा माता पिता की लिखित अनुमति के साथ स्कूल केवल उन छात्रों के लिए खुलेंगे जिनके पास ऑनलाइन शिक्षा की पहुंच नहीं है या पढाई से सम्बंधित प्रॉब्लम्स का सामना कर रहे हैं. 

वहीं कॉलेजों में दाखिला लेने वाले छात्रों, पीएचडी के विद्वानों, स्नातकोत्तर छात्रों को ही परिसर में बुलाया जा सकता है ये उनकी पढ़ाई के प्रैक्टिकल पहलुओं को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है. इसके अलावा कॉलेजों और स्कूलों में स्विमिंग पूल फिलहाल बंद ही रहेंगे. स्कूलों के लिए, सुबह की असेंबली की अनुमति नहीं दी जाएगी. और ना ही छात्र आपस में कॉपी, पेन्सिल इत्यादि शेयर नहीं कर पाएंगे. 

वही सरकारी नियमों के अनुसार खुलेंगे.जो स्कूल और कॉलेज कंटेनमेंट जोन से बाहर हैं, साथ ही संस्थानों को फेस कवर, मास्क, और हैंड सैनिटाइजर आदि का एक पर्याप्त मात्रा में बैकअप स्टॉक रखने के लिए कहा गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *