ओह माय गॉड: एक ‘मर्द’ ने दिया बच्चे को जन्म, कहा- यह था एक टफ़्फ़ एक्सपीरिएंस

ओह माय गॉड: डैनी वेकफील्ड ने गर्भावस्था के दौरान की कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर की हैं| बता दें, कि डैनी ने 28 नवंबर को अपने बच्चे को घर में ही जन्म दिया है, उसके बाद उसने बताया, कि बच्चे को जन्म देना कितना मुश्किल और पावरफुल एक्सपीरिएंस होता है|

सोशल मीडिया पर शेयर किए अपने पोस्ट् में डैनी ने कहा, कि ट्रांसजेंडर और नॉन बाइनरी शरीर बेहद सेक्रेड होते हैं, इसलिए  हमें किसी के शरीर या उसकी बनावट पर टिप्पणी नहीं करनी चाहिए|

बच्चे को जन्म देना मुश्किल और पावरफुल एक्सपीरियंस

उन्होंने अपने एक इस्टाग्राम पोस्ट में कहा, “बच्चे को जन्म देना बेहद मुश्किल और पावरफुल एक्सपीरियंस है|

डैनी आगे कहते हैं- “ये वाकई बहुत मुश्किल था, मुझे लगा था, कि मैं नहीं कर पाऊंगा, मगर मेरे शरीर ने हार नहीं मानी, और मेरे दिमाग में बसे संशय को मेरे ऊपर हावी नहीं होने दिया, मैंने इसे अंजाम दिया|

डैनी के मुताबिक, उनके बच्चे का लिंग तब निर्धारित होगा, जब वो बड़ा वो जाएगा|

एक पिता कैसे दे सकता है बच्चे को जन्म?

यहाँ यह बात बताना आवश्यक है, कि अगर किसी व्यक्ति ने पुरुष के रूप में जन्म लिया है, और पुरुष की तरह जीवन बिता रहा है, तो वो कभी प्रेग्नेंट नहीं हो सकता है|

ओह माय गॉड लेकिन, इसके बावजूद कुछ ट्रांसजेंडर और नॉन बाइनरी लोग बच्चे को जन्म दे सकते हैं, मतलब जो भी व्यक्ति गर्भाशय और अंडाशय या ओवरीज के साथ पैदा हुआ, वो बच्चे को जन्म दे सकता है|

आज के समय में सेक्स चेंज थेरेपी से कोई भी व्यक्ति अपने जेंडर को बदलवा सकता है, यहाँ तक की जन्म के वक्त पुरुष जननांग के साथ पैदा हुआ व्यक्ति भी शरीर के अंदर गर्भाशय ट्रांसप्लांट करवा सकता है|

इसके बाद हॉर्मोन रिप्लेस्मेंट थेरेपी जैसे लम्बे प्रोसेस से होकर व्यक्ति को गुजरना पड़ता है, जिसमें महिलाओं में पाए जाने वाले हॉर्मोन को भी शरीर के अंदर डाला जाता है|

जिसकी वजह से शरीर में गर्भाशय विकसित होता है, और फिर सर्जरी के 6 महीने बाद गर्भाशय में भ्रूण को ट्रांसप्लांट किया जाता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *