इस डॉक्यूमेंट्री फिल्म ने जीता इस साल का ग्लोबल सस्टेनेब्लिटी अवार्ड

प्रकृति के संपर्क में रहने के महत्व को दर्शाती डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘माई ऑक्टोपस टीचर’ ने ग्लोबल सस्टेनेब्लिटी अवार्ड (GSFA) फिल्म पुरस्कार जीता है|

पिप्पा एहरलिच और जेम्स रीड द्वारा निर्देशित इस फिल्म में गोताखोर क्रैग फोस्टर के ओक्टोपस के साथ गुजारे एक साल को दिखाया गया है|

 इस साल डिफिकल्ट डायलॉग ने पांच दिवसीय सम्मेलन के लिए ग्लोबल सस्टेनेब्लिटी के साथ साझेदारी करी थी|

बता दें, डिफिकल्ट डायलॉग एक ऐसा इंटरनेशनल प्लेटफॉर्म है, जो हर साल दुनिया के ज्वलंत मुद्दों पर चर्चा करता है|

जानकारी के लिए बता दें, कि फ़िल्मी पर्दे पर सस्टेनेबिलिटी के लिए जीएसएफए संस्थापक पुरस्कार दिया जाता है, जिसकी स्थापना 2017 में सूरीना नरूला ने की थी|

हर साल यह पुरस्कार उस फिल्म को दिया जाता है, जो नए और वैज्ञानिक तरीके से संपोषणीयता के मुद्दों को दर्शाता है|

इस कैटेगरी में फिल्मों को उसकी कथा, पहल की रचनाशीलता और उसके सस्टेनेबिलिटी मैसेज (संपोषणीय संदेश) की विश्वसनीयता के आधार पर चुना जाता है|

‘माई ऑक्टोपस टीचर’ एक नेटफ्लिक्स ऑरिजनल डॉक्यूमेंट्री फिल्म है, जो दुनियाभर में सितंबर महीने में प्रदर्शित की गई थी|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *