मार्ली लिस: अपने रेपिस्ट को सामने बैठाकर महिला ने की 4 घंटे बात, दी माफी

कभी खुद यौन हिंसा का शिकार हुई 25 साल की कनाडा की ओंटोरिया निवासी मार्ली लिस आज दुर्व्यवहार और हिंसा की पीड़ित महिलाओं की मदद कर रही हैं|

कनाडा मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2019 में मार्ली ने अपने रेपिस्ट से आमने-सामने बैठ कर करीब 4 घंटे तक बातचीत की थी|

अपने ही रेपिस्ट को कर दिया माफ

रेपिस्ट को माफ करने के बाद लिस कहती हैं, कि अब उन्हें अपना एक बुरा अतीत भुलाकर आगे बढ़ने की जरूरत है|

लिस के मुताबिक, ‘अब तक वे करीब 40 महिलाओं के साथ संवाद स्थापित कर चुकी हैं| वे आगे कहती हैं, कि हम अपने इस मिशन के तहत किसी महिला के साथ हिंसा के बाद उसके इलाज, अपने शरीर से प्यार करना जैसी चीजों पर काम करते हैं|

अपनी आपबीती बताते हुए लिस ने कहा, कि अदालत की प्रक्रिया हिंसा की तरहही दर्दनाक होती है, और वकील द्वारा हिंसा के आरोपी को डिफेंड करना आपको पीड़ित दर्शाने के लिए बहुत है|

लिस ने कीरी ह्यूमनाइजसंस्था की शुरुआत

बता दें कि लिस ने ‘री ह्यूमनाइज’ संस्था भी शुरू की है, जो यौन हिंसा द्वारा पीड़ित महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करने का काम करती है|

इसके अलावा लिस अपनी संस्था में महिलाओं को हिंसा का शिकार होने के बाद अपने शरीर से प्यार करना सिखाती हैं|

इस संस्था के कार्यक्रमों में वर्चुअल सपोर्ट, गाइडेड मेडिटेशन और लोकल सेक्सुअल एसॉल्ट रिसोर्सिस जैसी सुविधाएं भी शामिल हैं|

मार्ली लिस के अनुसार, उनका उद्देश्य केवल यह हैं, कि हर दुष्कर्म पीड़ित को ये पता होना चाहिए, कि हिंसा के बाद किसी भी महिला के पास ‘क्रिमिनल जस्टिस सिस्टम’ ही एकमात्र विकल्प नहीं है|

लिस का कहना है कि यौन पीड़ितों को उनके अधिकारों और उपलब्ध विकल्पों से अवगत कराना असल में न्याय प्रणाली के भीतर काम करने वालों को शिक्षित करने से शुरू होता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *