इस राज्य की सेक्स वर्कर्स को सरकार देगी 5000 रुपये और हर महीने फ्री राशन

कोरोना वायरस के कारण सभी क्षेत्रों के आर्थिक हालात चिंताजनक हो गए हैं| इस बीच राहत की खबर है, कि महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई की सेक्स वर्कर्स को राशन और आर्थिक मदद मुहैया करवाने का फैसला लिया है|

इस समय देश में महाराष्ट्र कोरोना वायरस से ज्यादा प्रभावित राज्य है. महाराष्ट्र में कोरोना वायरस और फिर लॉकडाउन के बाद से कई लोग आज ऐसे भी है| जिनकी जिदंगी अभी भी पटरी पर नहीं आ सकी है, जिनमे मुंबई की यह सेक्स वर्कर्स शामिल हैं|

आर्थिक सहायता

इनके हितों को ध्यान में रखते हुए महाराष्ट्र सरकार अब मुंबई की 5600 सेक्स वर्कर्स को हर महीने आर्थिक मदद के साथ ही पांच किलो राशन मुहैया कराएगी|

सरकार के मुताबिक, जब तक कोरोना महामारी खत्म नहीं हो जाती, तब तक इन को राशन मुहैया करवाया जाएगा|

महाराष्ट्र सरकार के अनुसार, हर सेक्स वर्कर को 5000 रुपये प्रति महीना आर्थिक मदद और इसके साथ तीन किलो गेहूं और दो किलो चावल राशन में दिया जाएगा| अगर किसी के बच्चे स्कूल जाते हैं, उन्हें ऑनलाइन शिक्षा को जारी रखने के लिए 2500 रुपये अलग से दिए जाएंगे|

NGO की सरकार से अपील

हालांकि, महाराष्ट्र सरकार के इस फैसले के बाद एक एनजीओ ने सरकार का ध्यान इस ओर भी दिलाने की कोशिश की थी, कि आज भी कई सेक्स वर्कर्स ऐसी हैं, जिनके पास राशन कार्ड, आधार कार्ड और बैंक अकाउंट जैसे कोई भी पहचान के लिए दस्तावेज उपलब्ध नहीं है|

ऐसे में सरकार से मदद पाने वाले लोगों की तरह क्या बिना पहचान के वे भी इसका लाभ ले पाएंगी|

जानकारी के मुताबिक, महाराष्ट्र राज्य के महिला एंव बाल विकास विभाग ने मुंबई की 5600 सेक्स वर्कर्स की एक लिस्ट जारी कर दी है|

इस सूची में इनके 1592 बच्चे भी शामिल हैं| इस लिस्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र सरकार की ओर से इन्हें सहायता मुहैया करवाई जाएगी, जिसमें राशन और आर्थिक मदद दोनों शामिल है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *