हाथरस गैंगरेप: एक तरफ सियासी महाभारत और दूसरी तरफ बेबस परिवार

बीते दिनों हाथरस गैंगरेप पीड़ित लड़की के साथ जो भी हुआ है उससे पूरे भारत में घमासान  मचा हुआ है| इस दौरान दरिंदों ने हैवानियत की सारी हदें पार करते हुए हुए पीड़िता को कई जगह चोट पहुंचाई है|

जिसके चलते पीड़ित लड़की की मौत हो गई. घटना पर पीड़िता की मां ने कहा – जब मैंने अपनी बेटी को देखा तो उसके शरीर से बहुत खून बह रहा था|

 मैंने उसे अपने दुपट्टे से ढंक दिया. उसी दौरान मेने देखा कि बेटी की जीभ भी कटी हुई थी. पीड़िता की मां ने हाथरस पुलिस के उस बयान को भी खारिज कर दिया

जिसमें कहा गया था कि पीड़िता की जीभ नहीं कटी थी. पीड़िता की मां ने कहा कि पुलिस शुरू से ही झूठ बोल रही है|.

हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मां ने बताया कि हम बेहद एकदम सदमे की हालात में आ गए थे हमे कुछ भी समझ नहीं आ रहा था| कि हमारी बेटी के साथ यह क्या हुआ है|

वहीं इसी घटना पर अलीगढ़ अस्पताल का बयान भी सामने आया है| अस्पताल प्रशासन के अनुसार पीड़िता को रात में ही लाया गया था लेकिन उसके शरीर से खून नहीं निकल रहा था|

दूसरी और पीड़िता के भाई ने कहा कि पुलिस ने हमारी दीदी के लिए एंबुलेंस तक नहीं मंगाई. हमारी बहन काफी देर तक जमीन पर पड़ी रही|

पुलिसवालों ने ने कहा कि इन्हें यहां से ले जाओ

FIR तक के लिए हमें 8-9 दिनों का इंतजार करना पड़ा रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद भी पुलिस एक आरोपी को पकड़ती तो दूसरे को छोड़ दिया करती थी|

यह तो धरना-प्रदर्शन के बाद आगे की कार्रवाई हुई और आरोपियों को घटना के 10 दिन बाद पकड़ा गया| 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *