फ्रांस के राष्ट्रपति के इस बयान को लेकर दुनियाभर के मुस्लिम देशों में हो रहा विरोध

सोशल मीडिया पर कई मुस्लिम देशों की तरफ से फ्रांस के उत्पादों का बहिष्कार करने की मांग उठाई जा रही है|

बता दें, कि इन देशों के गुस्से की वजह राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों का एक बयान है|

खबरों की माने, तो कुवैत और कतर में तो फ्रेंच सामानों का बहिष्कार शुरू हो गया है|

यहाँ तक की एशियाई देशों जैसे पाकिस्तान और बांग्लादेश में भी मैक्रों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं|


मैक्रों के इस बयान पर बबाल

आपको बता दें, यह पूरा मामला एक टीचर की हत्या का है| जिनकी 16 अक्टूबर को हजरत मोहम्मद का कार्टून दिखाने पर गला रेतकर हत्या कर दी गई थी|

जिसके बाद फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने इसे इस्लामिक आतंकवादी घटना करार दिया था| उन्होंने यहाँ तक कहा था, कि इस देश की मुसलमान आबादी समाज की मुख्यधारा से अलग-थलग भी पड़ सकती है|

फ्रांस के राष्ट्रपति के इसी बयान के बाद अरब सहित कई मुस्लिम देश भड़क उठे और फ्रांसीसी उत्पादों के बहिष्कार की अपील कर दी|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *