मुंबई पुलिस का दावा- ‘रिपब्लिक टीवी पैसे देकर टीआरपी खरीदने का काम कर रहा था

पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दावा किया है| कि मुंबई में फर्जी टीआरपी का रैकेट चल रहा है|

इस मामले में अभी तक 2 लोगों को गिरफ्तार किया गया है| उन्होंने रिपब्लिक टीवी पर गंभीर आरोप लगाए हैं| उन्होंने कहा कि रिपब्लिक टीवी पैसे देकर TRP खरीद रहा था|

मुंबई पुलिस कमिश्नर ने कहा कि यह घोर अपराध की श्रेणी में आता है| जो आरोपी पकड़े गए हैं| हम इसकी जांच को भी तेज कर रहे हैं| हम लगातार फॉरेंसिक एक्सपर्ट की मदद ले रहे हैं|


उन्होंने कहा कि इस मामले में दो लोकल लेवल के चैनल भी शामिल है|

जिनके मालिक को कस्टडी में लिया गया है| हंसा” संस्था की शिकायत पर धोखाधड़ी का केस दर्ज किया गया है|


पुलिस कमिश्नर ने कहा कि रिपब्लिक टीवी में काम करने वाले प्रमोटर और डायरेक्टर भी इसमें शामिल हो सकते है| आगे की अभी फिलहाल जांच चल रही है|

कैसे काम करता था रैकेट?

उन्होंने कहा, ”बड़ा फर्जी टीआरपी का रैकेट हाथ लगा है| यह टेलीविजन विज्ञापन से जुड़ा है| विज्ञापन का दर चैनल की TRP रेट के आधार पर तय किया जाता है|

किस चैनल को किस हिसाब से विज्ञापन मिलेगा यह तय किया जाता है| अगर टीआरपी में बदलाव होता है| तो इसका सीधा असर उसके रेवेन्यू पर पड़ता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *