बंदर की अंतिम यात्रा पर रोया पूरा गांव, डीजे पर राम धुन के साथ की आखिरी विदाई

मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले में एक बंदर की मौत पर पूरा गांव रोया, बंदर की अंतिम यात्रा कुछ इस तरह निकली जैसे गांव के किसी व्यक्ति का निधन हो गया है|

बता दें, यह मामला राजगढ़ के राजपुरा का है, यहां एक बंदर का आकस्मिक निधन हो गया|

लोकल खबर के अनुसार, यह बंदर गांव में सबके यहां घूमता रहता था, जिससे लोगों का जुड़ाव बंदर के साथ हो गया था, जिसके बाद उसके निधन पर गांव के लोगों ने उसे परिवार के एक सदस्य की तरह ही विदाई दी है|

बंदर का लोगों के साथ हो गया था जुड़ाव

हिंदू रीति रिवाज के माध्यम से बंदर की शव यात्रा निकाली गई, अंतिम यात्रा में डीजे के साथ रामधुन बजाई गई, जिसमें ‘रघुपति राघव राजा राम सबको सन्मति दे भगवान’ जैसे गीतों के साथ यात्रा निकाली गई|

इस यात्रा में पुरुष वर्ग के साथ ही बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हुईं, जो यात्रा के पीछे चल रही थीं|

राजपुरा गांव में एक बड़ा मंदिर है, जिसमें सभी गांव के लोग पूजन आदि कार्यक्रम करते हैं|

कई तरह के धार्मिक आयोजन इस मंदिर में होते रहते हैं, आसपास के लोगों के अनुसार, यह गांव बड़ा ही धार्मिक प्रवृत्ति का है| यही वजह है, कि बंदर की मौत को कहीं न कहीं धार्मिक विधाओं से जोड़ते हुए उसकी अंतिम यात्रा में गांव के सभी लोग शामिल हुए|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *