देश का सबसे बड़ा घंटा, जिले के हर घर से जमा की गई 4 हजार किलो धातु…

देश का सबसे बड़ा घंटा: मंदसौर के अष्टमुखी भगवान पशुपतिनाथ को यह बड़ा घंटा समर्पित किया गया|

बताया जा रहा है, अष्टधातु से बना 37 क्विंटल वजन का यह घंटा अब तक देश और दुनियाभर के हिन्दू मंदिरों में लगा  सबसे बड़ा घंटा बताया जा रहा है|

बता दें, कि मंदसौर के प्रमुख मार्गों से महा घंटा यात्रा निकाली गई, जिसमें बैंड-बाजों के साथ नाचते गाते श्रद्धालु और जनप्रतिनिधि शामिल हुए|

महा घंटा अभियान

2015 में श्री कृष्ण कामधेनु संस्थान द्वारा महा घंटा अभियान की शुरुआत की गई थी| जिसके बाद संस्था ने जिले  भर में लोगों के घरों से पुराने धातु के बर्तन और स्क्रैप मटेरियल एकत्रित किए|

जानकारी के मुताबिक, लोगों ने भी भगवान पशुपतिनाथ को समर्पित होने वाले घंटे के निर्माण के लिए 4 हजार 300 किलो धातुएं दान दी|

तीन साल में गुजरात के अहमदाबाद में इन धातुओं से महा घंटा  बनाया गया जिसका वजन 37 क्विंटल है| महा घंटे में श्रद्धालुओं द्वारा दी गई धातुओं की गलाकर ही महा घंटे का निर्माण किया गया|

इस महा घंटे को बनाने की लागत  21 लाख 50 हजार रुपये आई, इसमें 3 लाख 27 हजार रुपये जीएसटी टैक्स चुकाया गया|

भगवान पशुपतिनाथ मंदिर परिसर

यह महा घंटा भगवान पशुपतिनाथ मंदिर परिसर में लगाया जाएगा| घंटे का दौलन ही 3 क्विंटल का है, लेकिन इसके बावजूद  दौलन को इतना फ्री किया गया है, कि कोई व्यक्ति इसे आसानी से बजा सकता है|

गौरतलब है, कि अभी तक 2 लाख 1हजार 924 वजनी दुनिया का सबसे बड़ा घंटा रूस के मास्को शहर में लगा है| Tsar Bell नाम का यह घटा कांसे से बना है, और क्रेमलिन  वाल और द ग्रेट बेल टॉवर के बीच रखा हुआ है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *