इथोपिया का पवित्र संदूक, जिसे बचाने के प्रयास में गई 800 श्रद्धालुओं की जान

इथोपिया  का  पवित्र  संदूक सैंट मेरी चर्च में  हर समय सुरक्षाकर्मियों की मौजूदगी में सुरक्षित रहता है और इसे ईसाई धर्म में काफी पवित्र माना जाता है|

खबर के मुताबिक, लगभग 800 लोगों को सेंट मैरी चर्च के आसपास मार गिराया गया है और यहाँ तक की कई दिनों तक सड़कों पर लाशें पड़ी रहीं थीं|

टाइम्स वेबसाइट के अनुसार, एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया था, कि जब लोगों ने गन फायरिंग सुननी शुरू की, तब वे चर्च की तरफ भागे ताकि वे वहां मौजूद पादरियों और इस पवित्र आर्क की रक्षा कर सके और इसके चलते कई लोगों को अपनी जान भी गंवानी पड़ी है|

नवंबर महीने में हुई थी घटना

बता दें, कि ये घटना नवंबर महीने में हुई थी, जब इथोपिया के पीएम अहमद ने इंटरनेट और मोबाइल नेटवर्क की सेवाएं बंद कर दी थीं, जिसके बाद से इथोपिया का पूरी दुनिया से सम्पर्क टूट गया था|

उस समय नवंबर के महीने में लोगों में इस क्षेत्र में तनाव बढ़ने के साथ ही डर बढ़ने लगा था, कि इस पवित्र संदूक को किसी दूसरे शहर ले जाया जाएगा|

जानकारी के मुताबिक, लुटेरों ने किसी तरह की दया नहीं दिखाई और उन्होंने ताबड़तोड़ हमले कर लोगों को मार गिराया|

मालूम हो, कि अहमद के सत्ता में आने के पहले इथोपिया पर 27 साल तक तिगरे पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने शासन किया था|

दरअसल, उनके शासनकाल में बड़े पैमाने पर पर भ्रष्टाचार और मानवाधिकार हनन की घटनाएं हुईं थीं|

जिस वजह से इससे तिगरे पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट (टीपीएलएफ) की सरकार बहुत अलोकप्रिय हुई और इसके बाद साल 2018 में अहमद सत्ता में आए|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *