बाइबल ईसाई धर्म के अनुसार लोगों के लिए की गई है, इन 8 चीजों की सख्त मनाही

अन्य धर्म और पंथों की तरह ही बाइबल ईसाई धर्म के लोगों के लिए पूजनीय है| बाइबल में बहुत से नैतिक मूल्य बताए गए हैं, चलिए जानते हैं, बाइबल में किन बातों की मनाही की गई है|

फैंसी कपड़े और महंगी चीजें

बाइबल के 2:9 अध्याय के मुताबिक, ‘महिलाओं का पहनावा सादा होना चाहिए. और चमकते सोने की चेन या महंगी घड़ियां जैसे फैशन आइटम से भी दूर रहना चाहिए|

खान-पान 

लेवीकट 10:11 के अध्याय के अनुसार, जिन जीवों के पास पंख नहीं होते हैं, इन जीवों को खाने से बचना चाहिए,  इनमे नदी या समुद्र में रहने वाले जीव शामिल हैं|

तलाक के बाद दूसरी शादी 

अध्याय 10:11-12 में लिखा है, कि तलाक के बाद दोबारा शादी करना गलत है|

सिर को ढका होना चाहिए

आजकल रिप्ड या रफ जींस फैशन जगत का एक मौजूदा ट्रेंड भी है, लेकिन,  लेवीकट के 10:6 अध्याय के अनुसार, सिर कभी खुला नहीं होना चाहिए, और न ही आपके कपड़े कहीं से फटे होने चाहिए|

चर्च में लड़कियां 

 क्रोथिएंस के 14:34 अध्याय में स्पष्ट कहा गया है, कि महिलाओं को चर्च में बोलने की आजादी नहीं है|

जब तक उन्हें बोलने के लिए न कहा जाए, तब तक उन्हें चुप रहना चाहिए. इसके अलावा उनके लिए बनाए गए गए नियमों का पालन जरूर करना चाहिए|

शादी से पहले संबध 

हेब्रियूज का 13:4 अध्याय के मुताबिक, पार्टनर के साथ शादी से पहले सेक्स करना वर्जित है| शादी से पहले सेक्स को अनैतिक बताने वाली इसके साथ ही कई बातों का जिक्र बाइबल में किया गया है|

पुरुषों की दाढ़ी

लेवीकट का 19:27 के अध्याय के अनुसार, पुरुषों की दाढ़ी या तो लंबी और घनी दाढ़ी हो तब ठीक है नहीं तो फिर एकदम साफ़ चट होनी चाहिए|

शराब पीना कहां सही और कहां गलत

लेवीकट 10:09 अध्याय का कहना है, कि जब आप किसी कार्यक्रम या समारोह में जाते हैं, तो आपको शराब या किसी तरह का हार्ड ड्रिंक का सेवन करने से बचना चाहिए|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *