दुनिया के पांच ऐसे देश, जिनके पास नहीं है अपना कोई लिखित संविधान

हमारे देश के पास अपना एक लिखित संविधान है, लेकिन, क्या आप जानते हैं, कि दुनिया के पांच ऐसे देश हैं, जिनके पास अपना लिखित संविधान नहीं है।

इनका शासन किसी और आधार पर चलता है। तो चलिए एक- एक करके इन देशों के बारे में बात करते हैं……

सऊदी अरब

अपने अजीबोगरीब कानूनों के लिए मशहूर सऊदी अरब  के पास भी अपना कोई लिखित संविधान नहीं है, और यहां पर कुरान में लिखी गई बातों को ही सर्वोच्च मानकर फैसले लिए जाते हैं।

कनाडा

उत्तरी अमेरिकी देश कनाडा के संविधान को लेकर कुछ लोगों का मानना है, कि यहां अलिखित संविधान से शासन होता है, तो वहीं कुछ लोगों के मुताबिक, यहां लिखित संविधान है। इसलिए, ऐसा माना जाता है, कि कनाडा में लिखित संविधान तो है, लेकिन यहां की सरकार अलिखित संविधान के नियमों का ही पालन करती है।

इंग्लैंड

आपको जानकर हैरानी होगी कि  इंग्लैंड यानी यूनाइटेड किंगडम के पास भी संविधान लिखित रूप में नहीं है। बता दें, कि यहां पर पहले से ही कुछ नियम बने हुए हैं, जिन्हें आधार मानकर शासन किया जाता है, और ये नियम संविधान के अधिनियमों के बराबर का महत्व रखते हैं।

न्यूजीलैंड

खूबसूरत द्वीपीय देश न्यूजीलैंड में भी अलिखित संविधान है, जिसके आधार पर ही यहां की न्याय और प्रशासनिक व्यवस्था चलती है, और पहले बने कानूनों को आधार मानकर ही यहां शासन चलाया जाता है।

इजराइल

इजराइल के पास भी अपना लिखित संविधान नहीं है। यह अलग बात है, कि देश के स्वतंत्र होने के बाद यहां संविधान बनाने की कवायद शुरू की गई थी, लेकिन संसद में आपसी मतभेदों के चलते यह नहीं बनाया जा सका। हालांकि, अलिखित संविधान को यहां की संसद में मान्यता प्राप्त है, जिससे पूरे देश को चलाया जाता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *